सोमवार, 20 जून 2011

प्यास परिभाषा

प्यास परिभाषा
प्यास वो है जो द्वेश पैदा करे
नन्हे से जीवन में देश पैदा करे...."प्यास"

प्यास लिये जो प्यासे है
कैसी चला रहे सांसे है
चिनी, पानी घोल जता
स्वार्थ के फेंकते पांसे है..."प्यास"


समय के अनुरूप है
भविष्य सुंदर रूप है...."प्यास"

समय की सही समझ है
अनुकूल सभी, सुलझ है...."प्यास"

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें